बंगाल में क्रांतिकारी गतिविधियाँ : चटगाँव आर्मरी रेड (Revolutionary Activities in Bengal : Chittagong Armory Red)

बीसवीं सदी के तीसरे दशक में बंगाल में कांग्रेसी नेतृत्व दो गुटों में बँट गया- जिसमें एक गुट के नेता सुभाषचंद्र बोस थे…

भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में गांधीवादी युग का आरंभ (The Beginning of the Gandhian Era)

भारत के राष्ट्रीय आंदोलन में मोहनदास करमचंद गांधी के प्रवेश के साथ लोक-राष्ट्रवाद का उदय हुआ। गांधीवादी राष्ट्रवाद ने भारत की राजनीतिक आर्थिक,…

भारत के बाहर क्रांतिकारी गतिविधियाँ (Revolutionary activities outside India)

भारत की स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ने के लिए क्रांतिकारियों ने शरण की खोज, प्रेस कानूनों से मुक्त रहकर क्रांतिकारी साहित्य छापने की संभावना…

भारत में क्रांतिकारी राष्ट्रवाद का उदय और विकास (The Rise and Development of Revolutionary Nationalism in India)

क्रांतिकारी आंदोलन भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के इतिहास का स्वर्णयुग है। बीसवीं शताब्दी के आरंभ में जब गरमपंथी राष्ट्रवादी स्वदेशी, बहिष्कार, राष्ट्रीय शिक्षा और…

भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में गरमपंथ का विकास (Development of Extremism in Indian National Movement)

बीसवीं शताब्दी के आरंभिक वर्षों में कांग्रेस की कतारों से ही एक नये और युवा दल का उदय हुआ, जो पुराने नेताओं के…

बंगाल-विभाजन और स्वदेशी आंदोलन (Bengal Partition and Swadeshi Movement)

गरमपंथी राजनीति की सर्वोत्तम अभिव्यक्ति बंगाल विभाजन-विरोधी आंदोलन में हुई, जो भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन का एक महत्त्वपूर्ण अध्याय है। इस आंदोलन का दायरा…