कल्याणी का चालुक्य राजवंश या पश्चिमी चालुक्य भाग-4 (Chalukya Dynasty of Kalyani or Western Chalukya Part-4)

विक्रमादित्य षष्ठ, 1076-1126 ई. (Vikramaditya VI, 1076-1126 AD.) विक्रमादित्य षष्ठ को स्वाभाविक उत्तराधिकार में राजसिंहासन नहीं मिला था, बल्कि अपने अग्रज सोमेश्वर द्वितीय…

कल्याणी का चालुक्य राजवंश या पश्चिमी चालुक्य भाग-3 (Chalukya Dynasty of Kalyani or Western Chalukya Part-3)

सोमेश्वर प्रथम, 1042-1068 ई. (Someshwara I, 1042-1068 AD.) जयसिंह द्वितीय के बाद उसका पुत्र सोमेश्वर प्रथम 1042 ई. में राजगद्दी पर बैठा। वह…

कल्याणी का चालुक्य राजवंश या पश्चिमी चालुक्य भाग-2 (Chalukya Dynasty of Kalyani or Western Chalukya Part-2)

सत्याश्रय, 997-1008 ई. (Satyasraya, 997-1008 AD.) तैलप द्वितीय के पश्चात् उसका बड़ा पुत्र सत्याश्रय 997 ई. में राजा हुआ। उसने ‘आहवमल्ल’, ‘अकलंकचरित्र’ तथा…

कल्याणी का चालुक्य राजवंश या पश्चिमी चालुक्य भाग-1 (Chalukya Dynasty of Kalyani or Western Chalukya Part-1)

10वीं शताब्दी के अंतिम चरण में कल्याणी या कल्याण में भी चालुक्यों की एक शाखा का राजनीतिक उत्कर्ष हुआ। उस समय दक्षिणापथ की…

पुलकेशिन् द्वितीय के बाद वातापी के चालुक्य (Chalukya of Vatapi After Pulakeshin II)

642-43 ई. के लगभग पुलकेशिन् द्वितीय की पराजय और उसकी मृत्यु के उपरांत लगभग तेरह वर्ष तक वातापी के चालुक्य राजवंश का इतिहास…

चालुक्य राजवंश (Chalukya Dynasty)

छठीं शताब्दी ईस्वी के मध्यकाल में संपूर्ण भारतीय प्रायद्वीप में राजनीतिक विकेंद्रीकरण का एक महत्त्वपूर्ण सिलसिला शुरू हुआ। जिस समय उत्तरी भारत में…

चीनी यात्री फाह्यान का यात्रा-विवरण (Travel details of Chinese traveler Fahien)

भारत प्राचीन काल से ही धर्म, कला. राजनीति, सभ्यता व संस्कृति के क्षेत्र में अपनी असाधारण उपलब्धियों के कारण प्रसिद्ध रहा है। यही…