प्राचीन भारतीय इतिहास के स्रोत (Sources of Ancient Indian History)

भारतवर्ष संसार के प्राचीनतम् एवं महानतम् देशों में अग्रगण्य है। ऐतिहासिक स्रोतों की दृष्टि से इतिहासकारों ने प्राचीन भारतीय इतिहास को तीन भागों…

गुप्तों का आदि-स्थान और आरंभिक गुप्त शासक (The Early Place of the Guptas and the Early Gupta Ruler)

गुप्तों की जाति की तरह उनके आदि-स्थान के विषय में भी इतिहासकारों में पर्याप्त मतभेद है। स्पष्ट प्रमाणों के अभाव में गुप्तों के…

गुप्तों की प्राचीनता और उद्भव (Antiquity and Origin of the Guptas)

गुप्तों की उत्पत्ति-विषयक समस्या का समाधान अभी तक नहीं हो सका है। पुरातात्त्विक स्रोतों से पता चलता है कि सम्राट गुप्तवंश के पूर्व…

 सम्राट गुप्त राजवंश के ऐतिहासिक स्रोत (Historical Sources of Emperor Gupta Dynasty)

गुप्त राजवंश भारतीय इतिहास के पृष्ठों में सर्वांगीण अभ्युत्थान हेतु गौरवान्वित स्थान का भागी रहा है। इस राजवंश के नरेशों ने अपने अदम्य…

प्राक्-गुप्त युग में भारत की राजनैतिक दशा (Political Condition of India in Pre-Gupta Period)

उत्तरी भारत में कुषाणों के पतन और गुप्तों के उदय के पूर्व के काल को स्मिथ जैसे इतिहासकारों ने ‘अंधकार युग’ कहा था।…

मौर्योत्तरकालीन समाज, धार्मिक जीवन, कलात्मक एवं साहित्यिक विकास (Post-Mauryan Society, Religious Life, Artistic and Literary Development)

मौर्योत्तरकालीन सामाजिक जीवन (Post-Mauryan Social Life) मौयोत्तर काल के शुंग और संभवतः सातवाहन वंश के शासक ब्राह्मण थे। अतः इस काल में भी…

मौर्योत्तरकालीन राज्य-व्यवस्था एवं आर्थिक जीवन (Post-Mauryan Polity and Economic Life)

मौर्य साम्राज्य के अंत के साथ ही भारतीय इतिहास की राजनीतिक एकता कुछ समय के लिए खंडित हो गई। देश के उत्तर-पश्चिमी मार्गों…

मौर्यकालीन सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक जीवन (Mauryan Social, Religious and Cultural Life)

मौर्यकालीन सामाजिक जीवन (Mauryan Social Life) पूर्ववर्ती धर्मशास्त्रों की भाँति कौटिल्य ने भी वर्णाश्रम व्यवस्था को सामाजिक संगठन का आधार माना है। कौटिल्य…